Website को Search Engine और SEO Friendly कैसे बनाये ?

website ko SEO friendly kaise banaye


आज के इस डिजिटल यूग में लगभग सभी लोग अपने बिज़नस को ऑनलाइन सेट कर रहा है लेकिन बहुत लोग को अभी तक ये पता ही नहीं की अपने website को SEO और Search Friendly कैसे बनाये जिससे google में अछे position पर rank कर सके।


अगर आपने अपना वेबसाइट बना लिए है लेकिन आपके site पर कोई ट्रैफिक नहीं आ रहा है ये फिर कम आ रहा है तो इसका एक कारण ये भी हो सकता है की आपका site search engine optimization (SEO) फ्रेंडली नहीं है। वेबसाइट जब भी बनवाए तो search इंजन को ध्यान में रख कर ही design करवाना चाहिए।


आपके पास एक शानदार वेबसाइट है लेकिन कोई भी उस पर विज़िट नहीं करता है। आप पूछ सकते हैं क्यों? आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन को ध्यान में रखकर डिजाइन किया जाना चाहिए। बहुत सारे वेब डिज़ाइनर ग्राफिक कलाकार होते हैं जो image के हेरफेर में निपुण होते हैं, लेकिन सर्च इंजन optimization की basic समझ की कमी होती है।


वेब डिज़ाइन और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) परस्पर अनन्य नहीं होने चाहिए। वेबमास्टर्स (webmaster) को डिज़ाइन तकनीकों और खोज इंजन कैसे काम करते हैं, दोनों की स्पष्ट समझ होनी चाहिए। 


बिना किसी ट्रैफिक वाली वेबसाइट पर अतुल्य ग्राफिक्स और लेख का कोई मतलब नहीं होता है। visitor का ध्यान आकर्षित करने के लिए website की डिजाईन अच्छी होनी चाहिए, SEO और search engine फ्रेंडली के लिए content भी search algorithm को follow करते हुए optimize होना चाहिए। 


वेबसाइट को सर्च इंजन में rank कराने के लिए दोनों point को ध्यान में रख कर काम करना होता है. एक ये की वो सर्च इंजन के अल्गोरिथम भी follow करना चाहिए जिससे वेबसाइट सर्च इंजन फ्रेंडली बनेगा और दूसरा की आपके वेबसाइट का content user के लिए useful होना चाहिए जिससे वेबसाइट SEO फ्रेंडली बन सके। 


How to Make Search Engine और SEO Friendly Website in Hindi ?  जाने ये 10 आसान Steps. 


Website को Search Engine और SEO Friendly कैसे बनाये ? इसके लिए इन basic दिशानिर्देशों का पालन करें। 


1. नेविगेशन (Navigation) को आसान बनाये: 

Visitor और Crawlers (सर्च इंजन) दोनों को आपकी वेबसाइट पर navigate करने में easy होना चाहिए। ऐसी तकनीक का उपयोग करने से बचें जो वेब पेजों पर सर्च इंजन को crawl करने में प्रतिबंधित करती है। यदि आप standard HTML का उपयोग करते हैं तो अधिकांश सर्च इंजनों में वेबसाइट पर लिंक को अनुसरण (follow) करने की क्षमता होती है।


आसान तकनीक से वेबसाइट का navigation बनाये जो सभी visitor को लिंक इस्तेमाल करने और navigate करने के लिए लिंक स्पष्ट हो। 


2. पढ़ने में आसान हो (Easy to Read Content): 

Site को सर्च इंजन फ्रेंडली बनाने के लिए site के content का font style और size भी सही होना चाहिए। Beginners web content writer सर्च इंजन को नियम को बिना follow किये किसी तरह से लेख लिख देते है। लेख का fonts ऐसा होना चाहिए जो structure data को follow करते हुए visitor को भी पढने में आसानी हो। 


3. वेबसाइट की गति (Site Speed) सर्च फ्रेंडली हो: 

कभी कभी ऐसा होता है की वेबसाइट को ज्यादा अधिक आकर्शक बनाने के लिए ज्यादा image और बड़े ग्राफ़िक्स का उपयोग कर लिया जाता है जिससे वेबसाइट की speed कम हो जाती है। वेबसाइट को धीमी करने वाले image से बचें।


याद रखें कि आपके पास visitors का ध्यान खींचने के लिए केवल कुछ समय होते हैं, वेब पेजों के साथ कीमती सेकंड बर्बाद न करें जो लोड करने में धीमे हैं। अगर आपका वेबसाइट load होने में ज्यादा समय लेता है तो सर्च इंजन भी आपकी वेबसाइट को crawl करना छोड़ देंगे जिससे आपके वेबसाइट सर्च रैंक के लिए कभी अनुकूल नहीं होगा।


ऐसा तभी होगा जब आप मुफ्त होस्टिंग सेवाओं का उपयोग करते है जिस से बचना चाहिए जो अविश्वसनीय हो यदि आपको कोई वेब ट्रैफ़िक वृद्धि प्राप्त होती है तो प्रतिक्रिया देने में धीमी हो सकती है। 


4. Website Structure (वेबसाइट की बनावट) भी यूजर और सर्च फ्रेंडली हो:  

आपकी वेबसाइट का सभी page और post की बनावट भी एक जैसा होना चाहिए। दूसरे शब्दों में कहे तो, वेबसाइट के सभी पेजों का लुक (look), कलर स्कीम (color skim) और नेविगेशन (navigation) एक जैसा होना चाहिए जो site को सर्च इंजन फ्रेंडली बनाती है। 


5. Above the Fold (फोल्ड के ऊपर) भी site को सर्च इंजन फ्रेंडली बनाती है: 

आपके वेब पेज (web page) पर सबसे महत्वपूर्ण जानकारी "फोल्ड" के ऊपर दिखाई देनी चाहिए। इसका मतलब है कि वेबसाइट विज़िटर को स्क्रॉल बार का उपयोग किए बिना सबसे महत्वपूर्ण सामग्री को देखने में सक्षम होना चाहिए। 


6. Contact Information (संपर्क जानकारी) भी सर्च इंजन फ्रेंडली के लिए जरुरी है: 

वेबसाइट पर contact information होने से विश्वसनीयता दर्शाता है जो की एक गंभीर और वैध वेबसाइट की इकाई होती हैं। सर्च इंजन फ्रेंडली के आपके वेबसाइट पर contact page, privacy policy page और TOS (Terms of Service) page होना जरुरी होता है जो वेबसाइट को एक वैध वेबसाइट बनाती है। 


7. ज्यादा JavaScript (जावास्क्रिप्ट) और Ajax (अजाक्स) से बचें: 

जावास्क्रिप्ट (javascript) और अजाक्स (ajax) वेबसाइट को आकर्षित बनाने के लिए अच्छे हैं, लेकिन वे सर्च इंजन फ्रेंडली के अनुकूल नहीं हैं। अच्छे पुराने HTML के साथ रहना सबसे अच्छा है।


जिस website में ज्यादा मात्रा में java script इस्तेमाल करके content को डिस्प्ले किया जाता है तो web crawler भी site के content को crawl करने में असमर्थ होते है. जावास्क्रिप्ट या अजाक्स का उपयोग करके सर्च इंजन के अवसर को बर्बाद न करें। 


8. मेटा डेटा (Meta Data) भी सर्च फ्रेंडली के लिए मायने रखता है:

वेबसाइट पर प्रत्येक वेब पेज में यूनिक टाइटल और डिस्क्रिप्शन होना चाहिए। कई सर्च इंजन वेबसाइट के हेडर से मेटा डेटा निकालते हैं और इसका उपयोग वेब पेज लिस्टिंग को वर्गीकृत करने के लिए करते हैं। वेब पेज का शीर्षक (title) और विवरण (description) वेबपेज की content से संबंधित होना चाहिए। 


9. Targeted कीवर्ड (Keywords) का इस्तेमाल करें:

वेबसाइट के page content के अनुसार उससे मिलता जुलता keywords का उपयोग करें। अगर आप किसी tool के माध्यम से content को generate करते है तो सर्च इंजन का बॉट इसको समझ जाता है जिससे वेबसाइट सर्च इंजन फ्रेंडली नहीं हो पाती है


अगर आप targeted keywords को लेकर कॉपी writer से अपने वेबसाइट के content लिखवाते है तो आपका वेबसाइट सर्च इंजन फ्रेंडली हो सकती है इस बात का भी ध्यान रखे की आपके वेबसाइट का content यूजर फ्रेंडली होनी चाहिए न की सर्च इंजन के लिए।


10. वेब पेज को optimize करें: 

फोकस कीवर्ड के साथ वेबसाइट के प्रत्येक वेब पेज को एक या दो कीवर्ड से ही target करना चाहिए। कीवर्ड को मेटा टैग और वेब content में शामिल किया जाना चाहिए। 


एक descriptive वेबसाइट, सर्च ट्रैफ़िक और आपके उत्पाद (product) या सेवा (services) में स्वाभाविक रुचि रखने वाले विज़िटर ला सकती है। अनुकूलन डिजाइन प्रक्रिया का हिस्सा होना चाहिए। वेब डिज़ाइनर को नियुक्त करने से पहले सुनिश्चित करें कि वे आपकी डिज़ाइन आवश्यकताओं और सर्च इंजन अनुकूलन दोनों को समझते है की नहीं। 


इन 10 तरीको को इस्तेमाल करके आप अपने वेबसाइट को सर्च इंजन फ्रेंडली बना सकते है 


अंतिम बात:

सर्च इंजन अपने अल्गोरिथम को समय समय पर अपडेट करते रहता है तो आपको भी अपने website को search engine (SEO) friendly बनाने के लिए इससे अवगत रहना होगा।


इस पोस्ट में सिर्फ एक ही टॉपिक को cover किया गया है जो की है “website ko search engine (SEO) friendly kaise banaye”.


अगर आपको यह पोस्ट थोडा भी हेल्पफुल लगे तो इसको अपने सोशल मीडिया platform पर जरुर share करें जिससे और भी अपने भाई बंधू इसका लाभ ले सके।


इससे जुडी हुई कोई भी सवाल आपके मन में उठ रहा है तो बिना हिचकिचाहट के comment कर के अपने सवालो के जबाब पा सकते है।


ब्लॉग्गिंग रिलेटेड पोस्ट:

Money Making ब्लॉग कैसे Start करें?

viral ब्लॉग Post कैसे लिखें?

ब्लॉग पोस्ट को optimize कैसे करें?

ब्लॉग पर organic traffic कैसे बढ़ाये?

सेल्स funnel क्या है?

Niche Blogging क्या है?

Local SEO से अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं?

Guest Blogging क्या है? इससे अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाएं?

Search Intent क्या है? यह SEO के क्यों जरुरी है?

On Page SEO का technique क्या है?

Off Page SEO करने का सही तरीका क्या है?

0 टिप्पणियाँ