SEO क्या हैं ? What is Meaning of SEO in Hindi

SEO kya hai

आज के इस ब्लॉग पोस्ट में आपको SEO क्या है, एस.ई.ओ का अर्थ यानी Search Engine optimization का meaning और इसे अपने blog या website के लिए कैसे करें तथा इससे जुड़ी हुई प्रत्येक point के बारे में चर्चा होने वाली है। एस.ई.ओ सब्द आज के समय में बहुत ही popular है क्योंकि जैसे जैसे लोग digital यानी online system को समझ रहे है वैसे वैसे जितने भी young generation है, वो ये चाह रहे है की blogging करके ही कुछ पैसे कमाया जाये, लेकिन उसके लिए ये मालूम होना चाहिए की blogging कैसे शुरू करे और उसका SEO कैसे करे की ब्लॉग पर ट्रैफिक आये। मतलब साफ़ है जितना ज्यादा ट्रैफिक उतना ही ज्यादा इनकम।


ये भी पढ़ें:- Blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं ?

 

दोस्तों, अगर आपने भी अपना blog बनाए है, लेकिन उसपर traffic यानी visitor नहीं आ रहे है तो इसका मतलब साफ़ है की आपने अपने ब्लॉग पर सर्च इंजन optimization सही से नहीं किये है। हो सकता है की आपको इसके बारे में पूर्ण जानकारी न हो की एसईओ कैसे काम करती है, कोई बात नहीं, हर किसी के पास सभी प्रकार के जानकारी नहीं होती।

 

लेकिन आप वाकई ये जानना चाहते है की Search Engine Optimization (एस.ई.ओ) क्या है और यह कैसे काम करता है या इसे आप खुद से कैसे कर सकते है, तो इस लेख में आप डिटेल्स पढ़ेंगे ही और अगर आप चाहते है की इस लेख को हमेसा के लिए अपने पास रखे तो निचे दिए गए लिंक से इसका PDF download कर सकते है वो भी Free.

 

बिना सीखे कुछ नहीं हो सकता है, पहले learn उसके बाद Earn यह बहुत ही famous कहावत है जिस माध्यम से मैंने blogging करना सीखा है अगर आप भी बिना कोई गलती किये सीखना चाहते है तो उस book का लिंक निचे दिया गया है उसे आप बहुत ही कम कीमत पर खरीद कर पढ़ सकते है और Blogging, SEO, Affiliate Marketing कर के पैसे कमा सकते है। मेरे तरफ से कोई दबाव नहीं है अगर आपको जरुरत लगे तो जरूर पढियेगा।

 

अगर आप SEO करना भी सिख गए तो घर बैठे किसी दूसरे का Blog या website के लिए SEO करके पैसे कमा सकते है इसके लिए सबसे पहले आपको अपना blog start करके उसपर SEO करके इसमें महारथ हासिल करना होगा। जब आपको लगे की आप इसमें आप निपुण हो गए है तो मार्केट में उतर कर बहुत पैसा कमा सकते है क्योंकि ये sector आज के समय में इतना डिमांड में है  की हर कोई अपने business को online के जरिये बढ़ाना चाह रहे है।

 

SEO क्या हैं ? What is SEO in Hindi.


SEO का full form, Search Engine optimization होता है। यह एक ऐसा डिजिटल strategy हैं जो आपके वेबसाइट और उसके page को सर्च इंजन में उच्य rank प्राप्त करने में मदद करती हैं। क्योंकि यही एक रास्ता है जिससे लोग अपने query को सर्च कर के जवाब प्राप्त कर सकते हैं, सही SEO की वजह से ही जब सर्च इंजन यानी Google किसी site को top position पर रखता हैं तो लोग ज्यदातर उसी site पर click कर के अपने सवालो के जबाब पढ़ते है।


SEO कितने प्रकार का होता हैं - Types of SEO in Hindi

SEO kitne prakaar ka hota hai

SEO के तीन मुख्य प्रकार है जिस पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है। इसके बारे में भी पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी है इन तीनों प्रकार के seo को अच्छे से अपने blog या website पर implement करने से ही सर्च इंजन में रैंकिंग बढती हैं।

1. On-Page SEO

2. Off-Page SEO

3. Local SEO


इन तीनों SEO के प्रकार के बारे में विस्तार से पढ़ना है तो निचे दिए गए लिंक से जरुर पढ़ें:-

What is On-Page SEO in Hindi

What is Off-Page SEO in Hindi

What is Local SEO in Hindi ?


SEO कीवर्ड क्या हैं ? - What is keyword in SEO in Hindi


SEO keywords वैसे word और phrase होते है जो आपके ब्लॉग या वेबसाइट के content यानी लेख में होता है जिसको लोग search इंजन में सर्च करके आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर पहुचते है। वो कीवर्ड या टॉपिक ये बताता है की आपके ब्लॉग या वेबसाइट किस बारे में हैं।


SEO कैसे काम करता है ? - How SEO Work in Hindi

SEO kaise kaam karta hain


जब आप अपने ब्लॉग और website और उसके page को Google के अल्गोरिथम के अनुसार अपडेट रखते है तो search इंजन के crawler उसे read करता है तो पाता है कि आपके site का meta data यानी साइट का Title, Description एंड keyword साथ हि साथ वेब page का content, webmaster tools के गाइड लाइन को फॉलो करती हैं या नहीं।


अगर आपका साइट अल्गोरिथम के policy और webmaster के गाइड को फॉलो करती हुई पाई जाती है तो उसी आधार पर कोई भी सर्च इंजन अपने search ranking मे स्थान देती है। इसी तरह से सीईओ काम करती हैं।

 

SEO का क्या महत्व है ? - Importance of SEO in Hindi


SEO का महत्व ये है की इसके बिना किसी वेबसाइट पर ट्रैफिक आता ही नहीं है क्योंकि एस.ई.ओ एक ऐसा डिजिटल मार्केटिंग तकनीक है जिससे किसी site पर आर्गेनिक ट्रैफिक को बढाया जाता हैं।


SEO सिर्फ सर्च इंजन के लिए ही नहीं किया जाता है, बल्कि ऐसा अनुभव है कि जिससे site के पाठको के बारे में अनुभव और regular इस्तेमाल करने की छमता बढ़ाता हैं। अगर कोई भी यूजर हमेसा आपके ब्लॉग site पर विजिट करता  है और ज्यादा समय बिताता है तो इस activity को सर्च इंजन के सॉफ्टवेर इसे भली भाति track करता है और उसका रिपोर्ट आपको Google analytics tool में पुरे डिटेल्स में दिखाता है।

 

SEO कैसे करें ? - How to Do SEO in Hindi


SEO करने के लिए सबसे पहले इसके tactics और strategy को समझना होगा। अगर किसी page को search engine मे टॉप रैंक पर लाना है तो सबसे पहले ये देखना होगा कि उस page का content किस टॉपिक के अपर् लिखा गया है। उससे related keyword को उसके title मे डाले और content मे उस keyword को बोल्ड करें।

 Best SEO Checker Tools

Article लिखते समय article के पहले paragraph मे कम से कम दो keywords का इस्तेमाल करें और उससे रिलेटेड keyword का भी इस्तेमाल करें ताकि जब कोई विजिटर अपने हिसाब से search करेगा तो सर्च इंजन में आपका site अगर top 5 में भी rank कर रहा होगा तो वो आपके site पर जरुर विजिट करेंगा।


Related Post:


Money Making ब्लॉग कैसे Start करें?

viral ब्लॉग Post कैसे लिखें?

ब्लॉग पोस्ट को optimize कैसे करें?

ब्लॉग पर organic traffic कैसे बढ़ाये?

सेल्स funnel क्या है?

Niche Blogging क्या है?

Local SEO से अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाएं?

Guest Blogging क्या है? इससे अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे लाएं?

Search Intent क्या है? यह SEO के क्यों जरुरी है?

On Page SEO का technique क्या है?

Off Page SEO करने का सही तरीका क्या है?

एफिलिएट marketing क्या है इसे कैसे शुरू करें?

New Blogger के लिए Best blogging Platform कौन कौन से है?




Tags: SEO Kya Hai, SEO full form in hindi, SEO meaning in hindi, type of SEO in hindi, how seo work in hindi, SEO stand for hindi.

1 Comments

  1. The best solution for every small and large business is to keep their production track managed. The software is capable of generating a huge income from their end. Production software is mainly used by large producing factories, and various top multi-national companies to provide their comfortability in keeping the record of production. Everything in the software run automatically to handle all the ongoing process and optimization for better production efficiency. The interface of production software is crystal clear and simple which can easily execute all your project from start to end.
    Visit here: https://nextwhatindia.com

    ReplyDelete

Note: Read our Comment Policy before making any comments.